गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए नियम एक ब्लॉगर को अवश्य मालूम होने चाहिए। आखिरकार ये नियम गूगल के दिए हुए हैं। गूगल वेब स्टोरीज़ से सम्बंधित अपने दिशानिर्दशों के साथ बहुत ही स्पष्ट है।

गूगल (Google) ने खास कर वर्डप्रेस (WordPress) के लिए एक प्लगइन (Plugin) निकाला है। ये प्लगइन गूगल वेब स्टोरीज (Google Web Stories) के लिए है। एक ब्लॉगर होने के नाते आपको  गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए नियमो का पालन करना ही है।

गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए नियम

गूगल वेब स्टोरीज़ बनाने के लिए नियम – क्या करें और क्या नहीं ?

गूगल ने वेब स्टोरीज़ को सक्षम करने के लिए बहुत स्पष्ट दिशानिर्देश बनाए हैं और चूंकि ये गूगल के अपने निर्देश हैं, इसलिए आपको उन्हें एक कंटेंट छापने वाले ब्लॉगर के रूप मे मानना ही होगा।

आइये अब मैं आपके साथ गूगल वेब स्स्टोरीज़ के सब नियम साझा करती हूँ –

1. गूगल के लिए ऐसी वेब स्टोरी बनाये जो पूर्ण हों

यह एक अत्यंत महत्वपूर्ण दिशानिर्देश है।

गूगल आपसे अपेक्षा करता है की आप पूरी वेब स्टोरीज बनाये। कहने का मतलब यह है कि आप यूजर को आकर्षित करके अपनी वेब स्टोरी एक क्लिक्क्बैत की तरह नहीं इस्तेमाल कर सकते।

एक उदाहरण आपके सामने रखती हूँ –

मान लीजिये आपने एक ब्लॉग लिखा जिसका शीर्षक हैं – 21 आसान तरीके जिनसे घर बैठ कर पैसा कमाया जा सकता हैं । यहाँ अगर आपके ब्लॉग में 21 तरीके हैं तो आपको गूगल वेब स्टोरी में सब तरीके देने हैं। आप 5-6 तरीके देकर यूजर को बेवकूफ नहीं बना सकते।

इसलिए हमेशा गूगल वेब स्टोरी पूर्ण बनाए।

2. आपको प्रति स्लाइड 1 लिंक का उपयोग करने की अनुमति है

जब आप गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए वर्डप्रेस के लिए तैयार की गयी प्लगइन का इस्तेमाल करते हैं, तब ऐसे में आपको प्रति स्लाइड 1 लिंक (Link) जोड़ने की अनुमति होती है।

ये काफी उचित है क्योंकी गूगल आपको प्रति स्लाइड (slide) ट्रैफिक कमाने का मौका दे रहा है । 

लिंक का प्रभावी ढंग से उपयोग करें। याद रखें, आपका लक्ष्य गूगल पर प्रकाशित होना और अच्छी वेब कहानी के द्वारा अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक लाना है।

गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए नियम

 

3.  पूरी कहानी के लिए केवल 1 सहबद्ध लिंक (affiliate) की अनुमति है

जब वेब स्टोरीज़ में सहबद्ध लिंक डालने की बात आती है तो गूगल ने इस विषय पर बहुत कड़े नियम बनाए हैं।

देखिये, जहाँ बात आती है आपके ब्लॉग के लिंक की, वहाँ तो आप प्रति स्लाइड एक लिंक दे सकते हैं, जैसे की मैंने पिछले पॉइंट में बताया। लेकिन अगर सहबद्ध लिंक की बात है, वहां गूगल ने साफ़ कर दिया है की पूरी वेब स्टोरी में बस एक लिंक आएगा।

इसलिए , आपको अपनी गूगल वेब स्टोरी की पूरी लम्बाई के लिए सिर्फ 1 सहबद्ध लिंक जोड़ने की अनुमति है।

गूगल को बेवकूफ बनाने की कोशिश बिल्कुल भी न करें। अगर आप एक से अधिक लिंक जोड़ते हैं , तो ऐसे में गूगल के द्वारा आपको दण्डित किया जायेगा।

गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए नियम

4. अपनी गूगल वेब स्टोरीज के लिए 5 – 30 पेज जोड़ें

गूगल ने प्रति वेब स्टोरी में न्यूनतम 5 पेज और अधिकतम 30 पेज की सिफारिश की है

अपनी वेब स्टोरी में 5 से कम और 30 से अधिक पेज बिल्कुल भी न जोड़ें।

यह सुनिश्चित करें की हर पेज उपयोगकर्ताओं के सर्वश्रेठ अनुभव के लिए सटीक साबित हो।

गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए नियम

5. गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए आकर्षक शीर्षक और लिखावट का उपयोग करें

गूगल वेब स्टोरीज के लिए निर्धारित शीर्षक की अक्षर लम्बाई 40 से कम है।

यदि आप शीर्षक के साथ अतिरिक्त शब्दों का उपयोग करना चाहते हैं तो इसे 200 अक्षरों से कम ही रखें ।

कभी भी या किसी भी समय अपनी वेब स्टोरीज में भूल कर भी भीड़ न इकठी करें। यहाँ मैं शब्दों (text) की भीड़ की बात कर रही हूँ।

आप बहुत ज़्यादा शब्द अगर इतने छोटी सी जगह पे लिखेंगे तो उपयोगकर्ताओं के लिए यह एक भयानक अनुभव साबित होगा। ऐसा होने पर गूगल आपको कभी भी खोज परिणामों में शीर्ष स्थान पर नहीं आने देगा।

6. गूगल वेब स्टोरीज में छोटी वीडियो का उपयोग करें

यदि आप अपनी वेब स्टोरी के लिए प्रति स्लाइड वीडियो  (video) बनाना पसंद करते हैं तो इसे 15 सेकंड से कम ही रखे।

ये याद रखे की कंटेंट (content) बनाने के लिए हर वेब स्टोरी पर शीर्षक या उप शीर्षक जोड़ना अनिवार्य है। 

हर कंटेंट का चटपटा टुकड़ा आसानी से उपयोग करने के लायक होना चाहिए और इसलिए आपको वीडियो के साथ कैप्शन (caption or subtitles) को जोड़ना ही जोड़ना है।

 वर्ष 2020 में गूगल वेब स्टोरीज बनाने के नियम

चुकी वर्डप्रेस के लिए गूगल द्वारा बनाया गया प्लगइन अपने बीटा (beta) संस्करण में है, इसलिए इसमें कुछ वायरस (virus) हो सकते हैं। ऐसे में गूगल उन्हें रिपोर्ट (report) करने के लिए आपका स्वागत करता है। यदि आपको भी कोई ऐसे संकट का सामना करना पड़े तो आप गूगल को बता सकतें हैं।

आज मैंने आप सभी को गूगल वेब स्टोरीज बनाने के लिए नियम क्या हैं, वो बताया। यदि आपको गूगल वेब स्टोरीज को लेकर कोई और भी सवाल हैं तो निचे कमेंट में या हमारे सामुदायिक मंच यानि की कम्युनिटी फॉर्म में जरूर पूछे। मैं आपके सवालों का जवाब जरूर दूंगी।

इस ब्लॉग का अनुवाद अंग्रेजी से हिंदी भाषा में दिव्या पटेल जो की दिव्या दैनिका मंच की संस्थापिका हैं द्वारा किया गया है।

error: Content is protected !!